17.8.06

माइक्रोसॉफ़्ट द्वारा हिन्दी का बलात्कार - 1

पहले भी चर्चा हो चुकी है - माइक्रोसॉफ़्ट के हिन्दी भाषा पॅक की। उसी को आगे बढ़ाते हुए नोश फ़रमाए, एक और बलात्कारी कदम - माइक्रोसॉफ़्ट आइटमs कोई बता सकता है कि यह आइटमs कहाँ की हिन्दी है? भारतवर्ष या आर्यावर्त की तो कतई नहीं है। हो सकता है पाताल लोक की हो। item को मद न कह के आइटम कह दोगे तो भी हम झेल लेंगे, items को भी मद न कह के आइटम्स कह दोगे तो भी झेल लेंगे, पूर्णविराम के बजाय बिन्दु लगाओगे तो भी झेल लेंगे, लेकिन भाईसाहब, आइटमs ? ये क्या बला है? यह नमूना मिला है इण्टर्नेट ऍक्स्प्लोरर के हिन्दी उद्धरण से। जिस तन्त्रांश के लिए मैंने 8000 रुपए फूँके उससे कुछ न्यूनतम गुणवत्ता की उम्मीद करना क्या पाप है? <कटाक्ष> लिनक्स के नौसिखिये, शौकिया या ग़ैर पेशेवर अनुवादक </कटाक्ष> ऐसी ग़लतियाँ करें तो समझ आता है लेकिन माइक्रोसॉफ़्ट के बिल्लू भाई वाले करें तो? कतई नहीं।

5 टिप्‍पणियां:

  1. आपके लिए बहुत सही गाना

    मोहे लूट गए बिल्लुवा हां, लूट गए बिल्लुवा
    हिन्दी मांगी, हिन्ग्लिश ठेली,


    ये सचमुच, आपके पैसों का सही प्रयोग नही हुआ। आप बिल्लू को लिखो, या तो पैसे वापस करें या हिन्दी। दोनो अपने पास रखेगा, तो ठीक नही होगा।

    उत्तर देंहटाएं
  2. यह अनुवादक के दिमागी साफ़्टवेयर का बग है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. इसलिए ही तो कहता हूँ संजाल के लिए हिन्दी का मानकीकरण करते हैं. एक शब्दकोष बनाते हैं.
    मुझ जैसे नौसिखीयों को भी मार्गदर्शन मिलेगा.
    मैं नहीं मानता हिन्दी का उत्साही नौसिखीया अनुवादक भी ऐसी हिंगलिश का प्रयोग करेगा.
    हिन्दी कोई गरीब की जोरू नहीं हैं. ई-पत्र लिखे करमजले बिल्लूमियां को.

    उत्तर देंहटाएं
  4. 'पृष्ठ खोल रहा है' लिखा भी गलत है - सही होगा - पृष्ठ खोला जा रहा है.

    उत्तर देंहटाएं
  5. हां, वरना लगेगा कि बिल्लुवा ही खुदै पृष्ठ खोल रहा है।

    उत्तर देंहटाएं

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।