16.10.07

जोश मलीहाबादी के बाद जोश १८

जगदीश भाटिया बता रहे हैं कि सीएनबीसी ने जोश १८ शुरू किया है। वैसे समाचार के पोर्टल इतने बासी बासी क्यों लगते हैं? हाँ, फ़ॉंण्ट को फान्ट लिखा है, और शेखचिल्ली की हिंदी ब्लॉग नाम से एक कड़ी भी है। तो आप देखिए जोश अठारह पढ़ें और शेखचिल्ली को बधाई दें, गरमचाय का जमाव बहुत पसंद आया, मैं होता हूँ नौ दो ग्यारह।

1 टिप्पणी:

  1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।