6.2.08

सी ऍस ऍस से मत डरो, उसके आगे बढ़ो

कई साल पुरानी बात है, देबू ने मुझे कुछ फ़ोकट के खाके दिखाए थे और कहा था कि देवनागरी.नेट की कुछ हालत सुधारो, थोड़ा सुन्दर बनाओ उसे। मैंने नहीं किया, ऊपरी ओर से तो यही कह के कि सामग्री ज़्यादा ज़रूरी है, पर सच तो यह है कि सी ऍस ऍस से डर लगता था, पर अभी अन्ततः कुछ सी ऍस ऍस करने के बाद लगा कि पहले ही यह काम करता तो बहुत मेहनत बचती। नई सामग्री जोड़ने में भी डर लगता था, क्योंकि सभी पन्ने एक जैसे रखना ज़रूरी था। यह डर कुछ वैसा ही था जैसा कि इंस्क्रिप्ट सीखने के पहले हिन्दी लिखने में लगता था, पर उसके बाद आसानी से ज़्यादा और सही लिखना शुरू हुआ। वही चीज़ अब सी ऍस ऍस के साथ है। अब नए पन्ने जोड़ना काफ़ी आसान हो गया है, पर चक्कर यही है कि आजकल ब्रोडबैंड ठप्प है, इसलिए काम और आगे नहीं बढ़ पा रहा है वरना हर रोज एक नया पन्ना जोड़ने का तो इरादा था ही। इसीलिए कहते हैं, माउण्टेन ड्यू पियो, आगे बढ़ो। और चीज़ें जिनसे फ़िलहाल डर लगता है -
  • जावास्क्रिप्ट
  • गुरमुखी
  • तस्वीरों को छोटा बड़ा करना
  • अपनी आवाज़ रिकॉर्ड करके पॉडकास्ट करना
जय हो सी ऍस ऍस की, और जय हो सी ऍस ऍस पुष्टिकर्ता की।

4 टिप्‍पणियां:

  1. औरों के बारे में तो नहीं जानता पर रिकॉर्ड कर पॉडकास्ट करना आसान मुश्किल तो है बढ़िया पॉडकास्ट करना :-)

    उत्तर देंहटाएं
  2. भैया ये दोनों भूत कैसे काबू में आते हैं कुछ मुझे भी बता दें तो आपको दुआएं दूंगा.. बहुत डरा रखा है दोनों ने... :(

    उत्तर देंहटाएं
  3. CSS & JS के बारे में पूछ रहा हूं भाई

    उत्तर देंहटाएं
  4. CSS बेहद आसान है.
    माइक्रोसाफ़्ट एक्सप्रेशन वेब का प्रयोग करें. सी एस एस का भूत भाग जायेगा.
    डाउनलोड करें मनोरंजन टूलबार
    http://www.vibgyorlife.com/toolbar

    उत्तर देंहटाएं

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।