21.6.08

इंस्क्रिप्ट के जरिए हिन्दी लिखने के लिए सात मिनट दस सेकिंड का वीडियो

बड़े दिनों से - बल्कि सालों से सोच रहा था कि इंस्क्रिप्ट सिखाने का कोई आसान तरीका हो। इंस्क्रिप्ट है तो आसान पर जब तक आमने सामने बैठे न हों समझाना मुश्किल होता है कि यह कितना आसान है। शुक्र है संस्तुति जी का जिन्होंने यह वीडियो - नहीं व्हीडियो - तैयार किया - जो सात मिनट दस सेकिंड का है, और इसके जरिए ७ साल के बच्चे से ले के ७७ साल के जवाब तक आसानी से इंस्क्रिप्ट सीख सकते हैं।

यह लेख भी मैं इंस्क्रिप्ट के जरिए ही लिख रहा हूँ। दरअसल इंस्क्रिप्ट मुश्किल इसलिए लगता है क्योंकि हमें समझ नहीं आता है कि क k की जगह क्यों है और त l की जगह क्यों हैं। पहले पाँच मिनट इस व्हीडियो में संस्तुति जी यही समझाती हैं कि इंस्क्रिप्ट का जमाव जैसा है, वैसा क्यों है। वह यह भी समझाती हैं कि भारत की अलग अलग भाषाओं में टाइपराइटर के जमाव अलग अलग क्यों हुए, और हर भारतीय भाषा के लिए इंस्क्रिप्ट जमाव एक जैसा क्यों हैं, और इसके फ़ायदे क्या हैं।

संस्तुति जी अपने व्हीडियो का परिचय देते हुए कहती हैं -

अधिकतर भारतीय लेखक सभी भारतीय भाषाओं में टंकण करने के लिए एक आसान जुगाड़ नहीं जालते हैं -- आधे घंटे से कम में सीखें। इंस्क्रिप्ट का तरीका सीखिए, एक ही बार में। यह कुञ्जीपटल जमाव बिल्कुल सरल है। टंकण की कक्षाओं में जाने की ज़रूरत ही नहीं है।
मुझे लगता है कि इंस्क्रिप्ट के अधिक लोकप्रिय न होने का एक कारण यह भी रहा हो कि टंकण कक्षाओं वालों को इसमें कुछ फ़ायदा नहीं होता। जो चीज़ दो दिन में सिखाई जा सकती है उसके लिए काहे का कोर्स और कितने पैसे का कोर्स?

एक बार यह समझ आ जाए कि इंस्क्रिप्ट का जमाव जैसा है, वैसा क्यों है, फिर इंस्क्रिप्ट सीखने के लिए कोई शिक्षक, कोई कितबिया, कुछ नहीं चाहिए। बस लिखते जाएँ, और धीरे धीरे अपनी गति बढ़ाते जाएँ।

मुझे व्हीडियो का पहला भाग ही मिला है, यदि आपको अन्य भाग मिलें तो मुझे ज़रूर बताएँ।

यह लीजिए व्हीडियो।

व्हीडियो पर टिप्पणी करें

5 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी खराबी यही है - हमें जोश दिलाते रहते हैं। खैर ७७ का होने में बहुत समय है। :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. अच्‍छी जानकारी खोजी है, पता कीजिए शायद दिल्‍ली में इसकी सीडी उपलब्‍ध हो

    उत्तर देंहटाएं
  3. लगता है आप सीखा कर छोड़ेंगे...

    उत्तर देंहटाएं
  4. प्रत्येक हिन्दी टंकणकर्ता को इन्स्क्रिप्ट सिखाए बगैर काम नहीं चलेगा. सिखानी पड़ेगी।

    उत्तर देंहटाएं
  5. "बल्कि सालों से सोच रहा था कि इंस्क्रिप्ट सिखाने का कोई आसान तरीका हो। "

    मेरे दिमाग में भी बहुत समय से यही बात घूमती रही है। इनस्क्रिप्ट सबसे बेहतरीन है, लम्बे समय से इस पर ढेरों टटोरियल लिखने की योजना है ताकि लोगों का इनस्क्रिप्ट फोबिया दूर हो सके। ब्लॉग जगत में वापसी पर यह मेरे प्राथमिकता सूची में होगा।

    उत्तर देंहटाएं

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।