10.12.08

मुबारक हो मुबारक

अपने घर पर बीऍसऍनऍल का फ़ोन लग गया! उम्मीद है कि जल्द ही ब्रोडबैंड भी लग जाएगा। उम्मीद है भारत सरकार के इस कदम से ऊलजुलूल उन्नत तकनीकों से जल्दी छुटकारा मिलेगा। लेकिन बहुत कुछ सीखने को भी मिला। पर अब जल्द ही २७ लाख ७० हज़ार एक होने जा रहे हैं हम!

रमण जी की बदौलत संख्या एक लाख कम हुई। २६ लाख ७० हज़ार एक।

5 टिप्‍पणियां:

  1. वाह-२, मुबारक हो जी। अब जल्द ही आपके यहाँ भी भा.सं.नि.लि का ब्रॉडबैन्ड लग जाए ऐसी शुभकामना ताकि आप भी ऑनलाईन रईसों की श्रेणी में आ जाएँ, ही ही ही!! :D

    उत्तर देंहटाएं
  2. आप एक-लाख-एक के बराबर हैं क्या? बधाई हो।

    उत्तर देंहटाएं
  3. ओफ़्फ... गलती पकड़ी गई!

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत ... बहुत .. बहुत अच्छा लिखा है


    टेम्पलेट अच्छा चुना है. थोडा टूल्स लगाकर सजा ले .


    कृपया मेरा भी ब्लाग देखे और टिप्पणी दे
    http://www.manojsoni.co.nr

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत ... बहुत .. बहुत अच्छा लिखा है
    हिन्दी चिठ्ठा विश्व में स्वागत है
    टेम्पलेट अच्छा चुना है. थोडा टूल्स लगाकर सजा ले .

    कृपया मेरा भी ब्लाग देखे और टिप्पणी दे
    http://www.manojsoni.co.nr

    उत्तर देंहटाएं

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।