3.1.08

शक्राणुओं से बनेंगे रोबोट

ताज़ी खबर! शक्राणुओं अपनी पूँछों के जरिए एक घंटे में २१ सेंटीमीटर चल सकते हैं, शक्राणुओं के आकार के हिसाब से यह बहुत तेज़ गति है। अतः अब चुन्ने मुन्ने रोबोटों को चलाने के लिए इनसे काम लिया जा सकेगा। पर मतलब यह नहीं है कि जब भी भविष्य में घर में रोबोट चलाने होंगे तो आपको इकसठ बासठ करना पड़ेगा, शायद चूहों के शक्राणुओं को दुहा जाए।

2 टिप्‍पणियां:

  1. खबर रोचक लग रही है,पर नैनो टेक्नॉलाजी समझने में काफी अण्डरस्टैण्डिंग गैप हैं। इस तकनीक पर सुग्राह्य सामग्री हो तो बताइयेगा।

    उत्तर देंहटाएं
  2. Download Movies for free, download bollywood movies for free http://www.spideronweb.com/forum/

    उत्तर देंहटाएं

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।