25.2.09

आज की कारस्तानियाँ

आज के दिन मैं नौ दो ग्यारह होने से पहले यह सब करते हुए धरा गया -
  • 22:35 வணக்கம் वणक्कम् #
  • 22:47 शब्द - बनाने से ज़्यादा ज़रूरी है इस्तेमाल करना। सही गलत की बात नहीं है प्रचलन की है। #
  • 08:29 गर्मियाँ शुरू ढकोली में #चंडीगढ़ #
  • 08:30 फूलो फलो #दोस्ताना #
यह सेवा पेश की है लाउडट्विटर ने, उनको धन्यवाद।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।