4.7.05

मैसूर - बढ़िया है

सर्वविदित हो कि अब मैसूर का वृन्दावन गार्डन और भी बढ़िया हो गया है। ताज़े हिन्दी गानों की धुन पे झरने, झकास हैं, सबसे बढ़िया था, कोई कहे पे। और यह रहा श्रीरङ्गपट्टना में रङ्गनाथ मन्दिर के निकट खड़ा सुन्दर रथ। रङ्गनाथ मन्दिर के पास रथ

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।