19.6.09

आईसीआईसीआई का सुप्रभात

यूँ तो आईसीआईसीआई से लगभग रोज ही एक चिट्ठी आ जाती है जिसे में तुरंत एक चटके में रद्दी की टोकरी में डाल देता हूँ, पर आज कुछ अलग ही था।

सुप्रभात - हिंदी में! चेतावनी - पीडीऍफ़ है।

अगर आप चाहें तो उन्हें धन्यवाद देने के लिए और प्रोत्साहित करने के लिए रिसर्च ऍट आईसीआईसीआईडायरेक्ट डॉट कॉम पर लिख सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

सभी टिप्पणियाँ ९-२-११ की टिप्पणी नीति के अधीन होंगी। टिप्पणियों को अन्यत्र पुनः प्रकाशित करने के पहले मूल लेखकों की अनुमति लेनी आवश्यक है।